< सागर में एक साथ मिले कोरोना के 16 नये मरीज, 39 पहुंची संक्रमितो की संख्या Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सागर,

सागर में एक साथ 16 कोरोना प"/>

सागर में एक साथ मिले कोरोना के 16 नये मरीज, 39 पहुंची संक्रमितो की संख्या

सागर,

सागर में एक साथ 16 कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद हड़कंप की स्थिति बन गई है ।देर रात तक चली जांच के बाद सागर के सदर इलाके से दो परिवारो से 14 मामले सामने आये है। गुजरात से लौटे आदर्श केशरवानी के परिवार  से 11 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं जो सागर संभाग में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है जो एक ही परिवार से मिला है। इसके बाद सदर के ही संकल्प केशरवानी के परिवार से 3 कोरोना पॉजिटिव मिले है । संकल्प मुबई के नासिक से वापस आये हैं ।वहीं एक बच्ची तिलकगंज से और एक महिला मोतीनगर से कोरोना पॉजिटिव मिली है । इस तरह सागर में अब कोरोना के कुल मामलों की संख्या 39 पर पहुंच गई है ।

यह भी पढ़ें : चित्रकूट में 7 और संक्रमित मरीज मिले

बुन्देलखण्ड मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब से सोमवार देर रात 16 कोरोना पॉजिटिव केसों की पुष्टि की गई। कोरोना पाजीटिव के नाम नहीं बताने की नीति सागर जिला प्रशासन ने बदल दी है। बुन्देलखण्ड मेडीकल कालेज, सागर के डीन ने पहली बार अपने कोरोना अपडेट में स्पष्ट रूप से दो नये पाजीटिव केस व उनकी काटेंक्ट हिस्ट्री के नाम बताए। उन्होंने बताया कि सागर के सदर निवासी राजकपूर केशरवानी और गढाकोटा रोन के गौतम कुर्मी की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इनमें से एक सदर निवासी होटल व्यवसायी राजकपूर केशरवानी तिवारी परिवार की कांटेक्ट हिस्ट्री से हैं।

यह भी पढ़ें : चित्रकूट में कोरोना संक्रमण से जूझ रहे युवक की मौत

पाजीटिव निकले सिंधी कैंप के लोकल चिकित्सक अशोक खत्री तो लगातार स्थानीय लोगों का उपचार करते रहे और आशंका है कि उनसे इलाज कराने वाले मरीजों के पाजीटिव निकलने का सिलसिला भी शुरु होने वाला है। आज मिले 16 पॉजिटिव मरीजों में से 11 आदर्श केशरवानी (गुजरात रिटर्न) के परिवार से और  3 संकल्प केशरवानी (नासिक रिटर्न)  के परिवार से संक्रमित लोग हैं। ये 14 लोग सदर निवासी हैं तथा 1 महिला मोतीनगर,1 बच्ची तिलकगंज वार्ड से बताई गई है।

यह भी पढ़ें : यूपी ने जारी की लाॅकडाउन 4 की गाइडलाइन, क्या होगा खुला और क्या बन्द

नाम सामने आने से लोगों को अपने बचाव में सहायता मिलेगी। दूसरी तरफ लोगों से इतनी जागरूकता की भी अपेक्षा की जाती है कि पाजीटिव व्यक्तियों या उनके परिवारों को लांछित या अपमानित करने की आवश्यकता नहीं है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें